ज्ञानवापी पर कोर्ट के फैसले के बाद वाराणसी डीएम ने जारी किया बयान, पढ़िए कब से शुरू होगा सर्वे
Rate this post
WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

Gyanvapi Survey: दोस्तों चीफ जस्टिस डीवाई चंद्रचूड़ एवं जस्टिस जेबी वर्दी वाला और मनोज मिश्रा की बेंच ने यह फैसला लिया है कि वह एएसआई को ASI परमिशन देंगे ज्ञानवापी में सर्वे को जारी रखने का परंतु यह शर्त भी लगाई है कि एएसआई को निश्चित करना पड़ेगा कि किसी भी चीज में वह ज्यादा हस्तक्षेप ना करें Gyanvapi Survey की प्रक्रिया के दौरान आइए जानते हैं इस आर्टिकल के माध्यम से क्या है माजरा

सुप्रीम कोर्ट का फैसला Gyanvapi Survey पर

हिंदू दल को एक तरीके का रिलीज दिया है सुप्रीम कोर्ट ने जिसके तहत आर्कलॉजिकल सर्वे ऑफ इंडिया को इजाजत दी गई है कि वह अपना साइंटिफिक सर्वे Gyanvapi Survey ज्ञानवापी के ऊपर कर सकते हैं ताकि वह अंदाजा लगा सकते हैं कि यह 17 वी शताब्दी का ढांचा पहले मंदिर था कि या फिर यह शुरू से ही मस्जिद के रूप में रहा है

क्यों आया यह फैसला Gyanvapi Survey के ऊपर

दोस्तों यह फैसला सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता जोकि एसआई और उत्तर प्रदेश सरकार को रिप्रेजेंट कर रहे थे उनके सबमिशन को ध्यान में रखकर सरकार ने बोला है कि कोई भी एक्सकैवेशन की प्रक्रिया सर्वे के दौरान नहीं करी जाएगी ना ही किसी भी प्रकार का ढांचे को नुकसान पहुंचा जाएगा सर्वे के दौरान परंतु मामले की गंभीरता एवं सामाजिक सामाजिक दृष्टिकोण को देखते हुए सुप्रीम कोर्ट ने यह फैसला लिया है कि आस्था के मुद्दों में यह जरूरी है लोगों का जानना कि क्या यह मस्जिद पहले मंदिर थी कि नहीं और सर्वे क्योंकि एक साइंटिफिक प्रक्रिया है इसलिए इसका किसी भी दल को खिलाफत नहीं करनी चाहिए

निष्कर्ष Gyanvapi Survey के ऊपर

दोस्तों ऊपर दिए गए आर्टिकल के माध्यम से हमने जाना कि सुप्रीम कोर्ट में Gyanvapi Survey की इजाजत दे दी है इसके साथ कुछ शर्तों को भी रखा है जिसको आर्कलॉजिकल सर्वे ऑफ इंडिया को मानना पड़ेगा अगर उनको सर्वे को ठीक तरीके से पूरा करना है हम आशा करते हैं आपको हमारा आर्टिकल पसंद आया होगा और आप इसी प्रकार से हमारे आर्टिकल से जुड़ते रहेंगे और समय-समय पर सबसे सटीक और सबसे जल्दी खबर जानने के लिए आप हमारे इस पोर्टल आप की योजना पर समय समय पर आते रहेंगे | तब तक के लिए हमारा आपको सादर

धन्यवाद

By AapkiYojana

मैं एक योजना और मनोरंजन लेखक हूँ, जो वेबसाइट aapkiyojana.in के लिए लेख लिखता हूँ। मेरा लक्ष्य उपयोगकर्ताओं को सरल भाषा में विभिन्न सरकारी और गैर-सरकारी योजनाओं की जानकारी प्रदान करना है, साथ ही मनोरंजन से भरपूर लेखों के माध्यम से उनकी मनोरंजन को भी बढ़ावा देना। मेरे लेखन से मैं उपयोगकर्ताओं को महत्वपूर्ण जानकारी प्रदान करने का प्रयास करता हूँ ताकि वे अपने जीवन को और भी बेहतर बना सकें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *